मशर्त बेगम – उम्र 45 वर्ष

मेरा नाम मशर्त बेगम है । मेरे पिछले 5 सालो से बच्चेदानी में गांठे और साथ ही किडनी में पथरी भी थी। मैंने जयपुर के सभी नामी गिरामी हॉस्पिटल में बच्चेदानी में गांठो व पथरी के लिए ट्रीटमेंट लिया परंतु कुछ भी आराम नहीं मिला डॉक्टर्स ने बच्चे दानी निकलवाने की बात कही ।मैं बहुत ज्यादा घबरा गई। मैंने जगह-जगह जाकर कोशिश की कि मेरी गांठे दवा से ही निकल जाए क्योंकि मैं शरीर से कोई अंग कटवाना नहीं चाहती थी ।फिर हमारे पड़ोसी ने गंगवाल होम्योपैथी रिसर्च हॉस्पिटल मे दिखाने के लिए कहा। मैं हॉस्पिटल गई, डॉक्टर साहब ने मुझे दो महीने मे बच्चेदानी में गांठे व पथरी निकालने की बात कही। लेकिन मैं बहुत ज्यादा हैरान थी कि ऐसा भी हो सकता है क्या कि मात्र 2 महीने के अंदर ही गांठे कैसे निकल सकती है ।मैंने डेढ़ महीने बाद सोनोग्राफी कराई, लेकिन यह तो मेरे लिए एक जादू सा ही था कि रिपोर्ट में सबकुछ नार्मल आया मतलब बच्चेदानी में से गांठे भी निकल चुकी थी और पथरी भी । डॉक्टर साहब मेरी लिए किसी खुदा से कम नहीं थे । मैं डॉक्टर साहब का बहुत-बहुत शुक्रगुजार हूँ। धन्यवाद

जयपुर, राजस्थान
Share: